अब दिन में 6 घंटे से ज्यादा नहीं खेल पाएंगे PUBG

916

नई दिल्ली. PUBG Mobile के तेजी से बढ़ते क्रेज और गुजरात के कुछ शहरों में इसके बैन होने को देखते हुए कंपनी ने नियमों में कुछ बदलाव कर सकती है। मिली जानकारी के अनुसार गेम बैन होने के बावजूद खेलने की वजह से राजकोट में कुछ युवकों को अरेस्ट किया गया था और अब Tencent Games और PUBG Corporation ने इस दिशा में कई अहम कदम उठाए हैं। ऐसा लग रहा है। गेम खेलने की लत से युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है। बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। शिकायतों के मद्देनजर ऐसा लग रहा है कि कंपनी ने गेमप्ले टाइम पर भारत में छह घंटे का रिस्ट्रिक्शन लगा दिया है।

गेमर्स का कहना है कि छह घंटे बाद उन्हें एक ‘Health Reminder’ का एक पॉप-अप बॉक्स दिखता है। प्लेयर्स से कहा जाता है कि वे छह घंटे तक गेम खेल चुके हैं और 24 घंटे बीतने के बाद उन्हें अगले छह घंटे का गेमप्ले टाइम दिया जाएगा। यह रिस्ट्रिक्शन गुजरात के कुछ शहरों में गेम बैन होने और कुछ अरेस्ट के बाद सामने आया है। हाल ही में, चीन की सरकार ने भी इस गेम को 13 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर राज्य में भी यह गेम पहले ही बैन है। कई यूजर्स ने रेडिट और ट्विटर पर अपने एक्सपीरियंस शेयर किए हैं और लिखा है कि उन्हें छह घंटे तक गेम खेलने के बाद हेल्थ रिमाइंडर मिला और बाद में गेम खेलने को कहा गया। कई यूजर्स ने इसपर नाराजगी भी जताई है और PUBG से इसे फिक्स करने को कहा है। एक यूजर ने लिखा, ‘मैं 18 साल से ऊपर का हूं और जानता हूं कि मेरे लिए क्या सही है। मुझे छह घंटे बाद रिमाइंडर क्यों दिया जा रहा है? मैंने PUBG रॉयल पास फ्री में नहीं खरीदा है।’ कुछ यूजर्स की मानें तो यह रिस्ट्रिक्शन केवल 18 साल से कम उम्र वाले यूजर्स के लिए है। बता दें, यह रिस्ट्रिक्शन अब तक ऑफिशली कंफर्म नहीं हुआ है।