अब श्रीनगर मनमर्जी से नहीं डलवा सकेंगे पेट्रोल-डीजल, प्रशासन ने तय की अमाउंट

878

नई दिल्‍ली. पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी के कारण पुरे उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी है। बर्फबारी के कारण जम्‍मू और कश्‍मीर के श्रीनगर में ईंधन की कम आपूर्ति से निपटने के लिए प्रशासन ने शहर के सभी पेट्रोल पंप संचालकों को निर्देश दिए हैं कि एक दिन में एक वाहन में सिर्फ 3 लीटर पेट्रोल ही डाला जाए। साथ ही डीजल की भी मात्रा तय कर दी है। अब श्रीनगर के पेट्रोल पंपों से रोजाना केवल 10 लीटर डीजल ही एक वाहन में डाला जा सकेगा।

बता दें कि जम्‍मू -कश्‍मीर में पिछले कई दिनों से बर्फबारी हो रही है। इससे यहां के राजमार्ग में आवाजाही बंद है। घाटी के पर्वतीय क्षेत्रों में कई स्थानों में हिमस्खलन और कई स्थानों पर हिमपात हुआ है। गुरुवार को जवाहर सुरंग के पास हुए हिमस्खलन में एक पुलिस चौकी इसकी चपेट में आ गई। इसमें 10 लोग लापता हो गए। राहत दल ने एक हिमस्खलन के मलबे से एक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) सहित दो लोगों को बचा लिया। लापता लोगों में छह पुलिसकर्मी, दो अग्निशमन सेवा के कर्मचारी और दो कैदी शामिल थे।