सुषमा स्वराज ने किया ट्वीट कर बताया- अर्मीनिया में फंसे पंजाबी युवकों के पास पहुंचे इंडियन अम्बेसेडर

954

चंडीगढ़/दिल्ली. अर्मीनिया में फंसे पंजाबी युवकों की विदेश मंत्रालय हर संभव सहायता कर रहा है। इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संज्ञान लिया है। उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी है कि अर्मीनिया में फंसे हुए युवकों के पास इंडियन अम्बेसेडर्स पहुंच गए हैं। विदेश मंत्री ने कहा- पंजाब के मुख्यमंत्री को संबंधित ट्रेवल एजेंटों को पकड़ने के लिए कहा गया है। इसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने डीजीपी को आरोपी ट्रेवल एजेंटों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के ऑर्डर दिए हैं।

ये है मामला…

कपूरथला के एक दंपति सहित दो युवक फर्जी एजेंट्स का शिकार होने के बाद अर्मीनिया में भूखे मरने के लए मजबूर हैं। इन युवकों ने विदेश से वीडियो बनाकर मदद की अपील की थी। फंस लोगों में एक युवक नडाला,  एक अमृतसर शहर और इब्राहिमवाल का एक दंपति शामिल हैं। इन युवकों के परिजनों ने कहा कि उन्होंने कर्ज लेकर उन्हें यूरोप में नौकरी के लिए भेजा था। एजेंट का एक व्यक्ति के चार लाख रुपए दिए थे। दंपति और युवकों को जयपुर से 9 दिसंबर को हवाई जहाज से अर्मीनिया भेज दिया गया था। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने परिजनों से दो अलग-अलग थानों ढिलवां और बेगोवाल में सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं।