LIVE : मनी लॉन्ड्रिंग मामला, रॉबर्ट वाड्रा से ED की पूछताछ का दूसरा राउंड, देने होंगे 40 सवालों के जवाब

756

नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ED) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई एवं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा से कथित तौर पर विदेशी संपत्ति रखने से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आज फिर सुबह पूछताछ करेगा।

आज वाड्रा से ईडी द्वारा 40 सवाल पूछे जाने हैं। बुधवार को भी ईडी ने उनसे करीब साढ़े 5 घंटे तक पूछताछ की थी। हालांकि वाड्रा के वकील ने उन्हें ‘बेदाग’ बताया है। 

ताजा अपडेट

करीब 2 घंटे की पूछताछ के बाद वाड्रा ईडी के दफ्तर से निकले

लंच के लिए राबर्ट वाड्रा ईडी ऑफिस से रवाना हुए

वाड्रा लंदन की 4 अन्य सम्पत्तियों के मामले में घिरे

प्रवर्तन निदेशालय के तीखे सवाल

पता चला है कि राबर्ट वाड्रा ने बुधवार को कई सवालों के जवाब दिए लेकिन कई सवालों के जवाब वे नहीं दे पाए। गुरुवार को भी उन्हें ईडी के तीखे सवालों के जवाब देने होंगे। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी उनसे संजय भंडारी, सी थंपी के साथ रिश्तों के बारे में पूछताछ कर सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि ईडी ने पहले राबर्ट वाड्रा की कंपनी में काम करने वाले मनोज अरोड़ाऔर जगदीश शर्मा पर शिकंजा कसा था। दोनों से ही कड़ी पूछताछ की गई थी। इन दोनों को अदालत ने 16 फरवरी तक अंतरिम जमानत दी थी।

ईडी ने वाड्रा से बुधवार को पूछे थे यह प्रमुख सवाल

  • प्रवर्तन निदेशालय के 7 अफसरों ने वाड्रा से उनके वकील की मौजूगी में पूछा कि क्या आप मनोज अरोड़ा
  • और संजय भंडारी को जानते हैं? वाड्रा ने कहा कि मैं संजय भंडारी को नहीं जानता। हां, मनोज
  • मेरी कंपनी में कर्मचारी था,. लेकिन अब नहीं है।

ईडी ने पूछा कि लंदन में संपत्ति के बारे में मनोज अरोड़ा की ई-मेल आईडी से आपकी ई-मेल आईडी पर पैसों के लेनदेन की बात हुई थी?

वाड्रा का जवाब था कि मैंने कभी ई-मेल नहीं किया।
यह पूछे जाने पर कि क्या संजय भंडारी के चचेरे भाई शिखर चड्ढा के साथ आपके व्यापारिक संबंध थे?

वाड्रा ने कहा, नहीं। ईडी ने सवाल किया कि लंदन में आपकी कई संपत्तियां हैं? वाड्रा ने कहा कि लंदन में मेरे पास कोई संपत्ति नहीं है।

ईडी ने दिसम्बर में की थी मनोज अरोड़ा से पूछताछ

ईडी ने पिछले साल दिसंबर में इस मामले में छापा भी मारा था और वाड्रा से जुड़ी कंपनी स्काईलाईट हॉस्पिटैलिटी एलएलपी के कर्मचारी मनोज अरोड़ा से पूछताछ की थी। जांच एजेंसी ने अदालत से कहा था कि उसने अरोड़ा के खिलाफ पीएमएलए का मामला दर्ज किया था क्योंकि भंडारी के खिलाफ 2015 के कालाधन कानून के तहत आयकर विभाग द्वारा एक अन्य मामले की जांच के दौरान उसकी भूमिका के बारे में जानकारी मिली थी।

एजेंसी ने आरोप लगाया था कि लंदन की संपत्ति भंडारी ने 19 लाख पाउंड में खरीदी थी और उसके सौंदर्यीकरण पर करीब 65,900 पाउंड का खर्च आने के बावजूद उसे 2010 में उसी कीमत पर बेच दिया।

वाड्रा से पूछताछ को लेकर भाजपा ने बुधवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि संप्रग सरकार के दौरान हुए पेट्रोलियम और रक्षा सौदों में उन्हें घूस मिली। बताया जा रहा है कि वाड्रा को बीकानेर में एक भूमि घोटाले से संबंधित अन्य धन शोधन मामले में जयपुर में 12 फरवरी को ईडी के समक्ष पेश होना है। राजस्थान उच्च न्यायालय ने उन्हें मामले में एजेंसी के साथ सहयोग करने के निर्देश दिए थे।

बुधवार को लंबी पूछताछ के बाद वाड्रा के ईडी कार्यालय से बाहर आने के बाद उनके वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल ने पूछताछ के दौरान लंदन में संपत्ति होने से पूरी तरह इंकार किया। उन्होंने कहा कि वाड्रा ने जांच में पूरा सहयोग किया और सभी सवालों के जवाब दिए। जांच एजेंसी जब भी वाड्रा को बुलाएगी वे पूछताछ के लिए मौजूद होंगे।

उन्होंने कहा कि वाड्रा ने इस मामले में अन्य आरोपियों से संबंध होने से भी इंकार किया। उनके मुवक्किल ने इस मामले में हमेशा सहयोग किया है और अब तक 15 नोटिस जारी किए गए थे, उन सभी के जवाब दिए गए हैं। वाड्रा से ईडी के एक संयुक्त निदेशक और दो उप निदेशकों ने पूछताछ की। उन पर यह मामला लंदन में एक संपत्ति को लेकर है जिसका मूल्य 19 लाख पाउंड बताया जाता है।

वाड्रा पर आरोप है ‍कि उन्होंने संजय भंडारी के माध्यम से 16 करोड़ 80 लाख रुपए में 12, ब्रायनस्टन स्क्वेयर स्थित घर खरीदा है। लंदन में उनके 2 घर और 6 फ्लैट हैं। ईडी के सूत्रों के अनुसार वाड्रा से पूछताछ के लिए 36 सवालों की सूची बनाई गई थी। इनमें से कई के जवाब उन्होंने दिए लेकिन कई सवालों पर वे खामोश हो गए।

कल वाड्रा को प्रवर्तन निदेशालय के यहां जामनगर हाउस स्थित कार्यालय छोड़ने के लिए उनकी पत्नी प्रियंका गांधी वाड्रा आईं थीं और उसके बाद वह लौट गईं थीं। प्रियंकाने बाद में कहा था कि वे अपने पति के साथ खड़ी हैं। करीब साढ़े पांच घंटे की पूछताछ के बाद वाड्रा रात लगभग साढ़े 9 बजे ईडी कार्यालय से निकले थे।