राणा का इतना धक्का की फर्जी नंबर वाली का कार का पर्चा तो दूर महिलाओं के साथ बदसलूकी का मामला भी दर्ज नहीं किया… राणा के समधी के खिलाफ केस दर्ज नहीं हुआ तो ​महिलाएं राणा के खिलाफ बैठेगी सड़क पर

1376

जालंधर, रोज़ाना भास्कर (हरीश शर्मा). राणा गुरजीत सिंह के समधी अमृतपाल पर फर्जी नंबर प्लेट लगाकर कार का इस्तेमाल करना तो दूर महिलाओं के साथ बदसलूकी का मामला तक दर्ज नहीं किया गया। महिलाएं शहर की नामवर हैं जिसमें कारोबारी निति सोनी व अदिति हंस भी हैं। पुलिस के पास राणा गुरजीत सिंह व उसके समधी के खिला‍फ शिकायतों की लंबी फेरहिस्त है, जिसमें जबरन सामान चोरी करना, फर्जी नंबर प्लेट लगाकर चुनावों में घूमना, महिलाओं के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करने के अलावा जबरन कब्जा, राणा की गुंडा बिग्रेड के मामले हैं।
कारोबारी महिला निति सोनी ने कहा कि कैप्टन अम​रिंदर सिंह की सरकार एक तरफ महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण की बात कर सशक्तिकरण कर रही है, पंचायतों में 50 फीसदी व निगम में 50 फीसदी महिलाओं को टिकट देकर कैप्टन ने महिलाओं का विश्वास बढ़ाया लेकिन उनके विधायक के समधी ही खुलेआम महिलाओं को धमकी व गालियां देकर फर्जी नंबर प्लेट वाली कार से निकल जाए तो इसका मतलब साफ है कि महिलाओं को इंसाफ के लिए जंग अभी लड़नी होगी।
निति सोनी ने कहा कि राणा गुरजीत सिंह का राजनीतिक प्रेशर इतना हैवी है कि पुलिस उनकी बात तक नहीं सुन रही है, हालांकि सुप्रीम कोर्ट की सख्य हिदायत है कि महिलाओं के साथ दुर्रव्यवहार व धमकियों की तत्काल एफआईआर दर्ज की जाए । अ​दिति हंस व निति सोनी ने कहा कि जालंधर से कपूरथला 20 किलोमीट की दूरी पर ही है और अगर इंसाफ न मिला तो वह राणा की कोठी के बाहर दरी बिछाकर बैेठ जाएंगी या फिर महारानी परनीत कौर की। निति ने विश्वास जताया कि कैप्टन उनकी शिकायतों पर जरूर गौर करेंगे और केस दर्ज कर राणा की गुंडा बिग्रेड को अंदर करेंगे।