जालंधर में 10 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म, लोगों द्वारा मौके पर ही अपना फैसला सुनाया गया व बलात्कारी व्यक्ति को पीट पीट कर सजा-ए-मौत दे दी

1240

जालंधर रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा)जालंधर के थाना रामामंडी क्षेत्र में पड़ते गणेश नगर में एक घर में 10 साल की नाबालिक लड़की से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। जहां पर लोगों ने अपना फैसला खुद ही सुना डाला और लड़के को सजा-ए-मौत दे दी बताया जा रहा है कि लोगों द्वारा बलात्कारी लड़के को मौके पर ही पीट-पीटकर मार डाला गया वही लड़की की मां ने बताया कि उनकी 10 साल की मासूम बच्ची को उसके छोटे भाई के साथ घर छोड कर बाहर काम से गए थे मगर जब वापिस आकर देखा तो उनके होश उड़ गए। की बच्ची खून से लथपथ बेसुध पड़ी थी और उसके पास एक व्यक्ति खड़ा था जो उनके घर से कुछ दूरी पर ही रहता है, जिसने लड़की से घर में घुसकर बलात्कार कर दिया। लड़की के घरवालों को देख कर बलात्कारी वहां से भागने लगा तो लड़की के परिजनों की ओर से शोर मचाया गया इलाका वासियों ने शोर की आवाजें सुन दोषी को मौके पर ही काबू कर लिया बलात्कार करने वाला 30 से 35 वर्षीय प्रवासी व्यक्ति है जिसने नशा किया हुआ था जानकारी अनुसार युवक को इलाक़ा निवसीयो द्वारा पीटपीट कर मार दिया गया। बलात्कारी व्यक्ति को जब जालंधर के सिविल हॉस्पिटल में पहुंचाया गया तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया और इस पूरे मामले की पुलिस जांच कर रही है।

वहीं जब रोजाना भास्कर की टीम ने इलाका वासियों से बात की तो उन्होंने अपने आपको निर्दोष बताते हुए बताया कि इलाका निवासियों ने बलात्कारी दोषी की पिटाई तो जरूर की थी मगर जान से मारा नहीं जब मौके पर पहुंची पुलिस तब दोषी को पुलिस द्वारा पानी पिलाया गया वह बलात्कारी खुद अपने पांव पर चलकर पुलिस वालों की गाड़ी में बैठकर उनके साथ गया था इलाका वासियों का कहना है कि बलात्कारी पुलिस वालों की पिटाई के बाद मारा गया है।
लेकिन जालंधर में अब लड़कियाँ ना तो अपने घरों में सुरक्षित है ओर ना ही बाहर। सड़कों पर जहाँ लड़कियों से सरेआम छेड़छाड़ के मामले सामने आते रहते है वही घरों में बैठी लड़कियां भी अब सुरक्षित नही है।