हिमाचल में मौसम खुलने पर 7 डिग्री बढ़ा तापमान, 29 से फिर बारिश की संभावना

1037

शिमला. हिमाचल प्रदेश के अधिक उंचाई वाले इलाकों पर पिछले दो-तीन दिनों से हो रही बर्फबारी के बाद मंगलवार को मौसम साफ रहा। पर्यटन स्थलों मनाली, डल्हौजी और शिमला में जहां धूप खिलने से मौसम खुशगवार रहा, वहीं निचले व मैदानी इलाकों में काफी उछाल आने से तपिश महसूस की गई। ऊना में दिन के तापमान में करीब 7 डिग्री की वृद्धि हो गई है। यहां आज अधिकतम तापमान 29.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। इसी तरह शिमला का अधिकतम तापमान छह डिग्री बढ़ोतरी के साथ 19.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। भुंतर में 23.4 डिग्री, कल्पा में 12.6 डिग्री, धर्मशाला में 18.4 डिग्री, उना मे 29.2 डिग्री, नाहन में 25 डिग्री, केलंग में 6.6 डिग्री, सोलन में 24 डिग्री, कांगड़ा में 26.8 डिग्री, बिलासपुर में 26.6 डिग्री, हमीरपुर में 27.1 डिग्री, चंबा में 25.5 डिग्री और डल्हौजी में 13.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने आगामी दो दिन मौसम के साफ रहने की संभावना जताई है। लेकिन 29 मार्च से एक बार फिर बारिश व बर्फबारी की आशंका है। बीते 24 घंटों के दौरान पूह में 26 और कल्पा में 8 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई। मौसम के इन तेवरों से पर्वतीय इलाकों में न्यूनतम पारा दिसंबर-जनवरी महीनों की तरह शून्य के नीचे व इसके आसपास दर्ज किया जा रहा है। लाहौल-स्पीति का केलंग राज्य में सबसे ठंडा रहा, जहां आज सुबह न्यूनतम तापमान -2.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। किन्नौर के कल्पा में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री, मनाली में 1.2 डिग्री, कुुफरी में 1.6 डिग्री, डल्हौजी में 4.8 डिग्री, सियोबाग में 5 डिग्री, शिमला में 5.7 डिग्री, भुंतर व पालमपुर में 7 डिग्री, सोलन में 7.5 डिग्री, सुंदरनगर में 8 डिग्री, चंबा में 8.3 डिग्री, जुब्बड़हटटी में 8.4 डिग्री, बिलासपुर में 9.2 डिग्री, उना में 9.4 डिग्री, हमीरपुर में 9.6 डिग्री और धर्मशाला में 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के मंद पड़ जाने से 28 मार्च तक राज्य में मौसम के पूरी तरह शूष्क रहने का अनुमान है। इस दौरान अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भी बढ़ोतरी होगी। लेकिन 29 मार्च को मैदानी इलाकों में गरज के साथ बारिश और पहाड़ों पर बर्फबारी की संभावना है। पर्वतीय क्षेत्रों में 30 मार्च को फिर से बर्फबारी की आशंका है।