20 से ज्यादा नौजवानों के ऊपर पीएपी की दीवार गिरी तीन की हालत गंभीर

1525

जालंधर रोजाना भास्कर.(मनदीप सिंह)PAP में होने वाली वायुसेना की भर्ती को पूरे पंजाब के नौजवानो ने आज़माने की कोशिश की और बेरोज़गारी के चलते लाखों की गिनती में नौजवान जालंधर पहुंचे मगर बेखबर प्रशासन ने कोई भी आए हुए बेरोजगार नौजवानों के लिए रहने का इंतजाम नहीं किया जिस कारण उन्हें पूरी रात सड़को पर और पार्को में गुज़ारनी पड़ी |

जब आज सुबह हादसे के बाद मीडिया ने इन सभी नौजवानों से बात की तो सभी ने एक ही बात कही की वो बेरोज़गारी के चलते मजबूर है की उन्हें इस हाईवे पर रात गुज़ारनी पड़ी वहा घायल नौजवानों का कहना है कि यह जो हादसा हुआ है उसका ज़िम्मेदार प्रशासन है।

भर्ती के लिए आए हुए नौजवान रात भर हाईवे पर इधर-उधर भटकते रहे वह सड़कों पर सोए क्या प्रशासन उन सभी हादसों से बे खबर था जो आए दिन हाईवे पर होते रहते हैं पर लगता है प्रशासन कुम्भकर्णी नींद से जागने को तैयार नहीं जिसका सीधा असर आज सुबह नौजवानो पर पड़ा और वो हादसे का शिकार हो गए |

पीएपी चौक पर जिन लोगों के सामने यह हादसा हुआ उन्होंने बताया कि हादसा इतना खतरनाक था कि जब सो रहे नौजवानों के ऊपर दीवार गिरी तब चारों तरफ दुआ ही दुआ वह लड़कों की चीखें सुन रही थी वहां पर मौजूद लोग इधर-उधर भागने लगे किसी को भी समझ नहीं आई हुआ क्या हुआ है कुछ ही मिनटों बाद पता चला कि सड़क पर सो रहे 20 से 25 नौजवानों के ऊपर दीवार गिर गई जिस कारण ऊपर से निकल रही बिजली की करंट वाली तारे नौजवानों के ऊपर गिर गई


।जिस कारण राहुल, विशाल, बलविंदर, अभिषेक, हरमन, गुरतेज सिंह, वरिंदर सिंह, रोहित कुमार, विकास, इंदरजीत सिंह, अभिषेक कुमार, पुष्पिंदर, बलविंदर, सचिन व अन्य घायल हो गए।

जिन्हें इलाज हेतु सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया हैं। 3 युवकों की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस हादसे ने जिला प्रशासन के उचित प्रबंधों के दावों की पोल खोलकर रख दी है।