केकेआर की लगातार दूसरी जीत

617

कोलकाता. कोलकाता ने 20 ओवर में 4 विकेट पर 218 रन का विशाल स्कोर बनाने के बाद पंजाब को 4 विकेट पर 190 रन रोककर अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की जबकि पंजाब को पहली हार का सामना करना पड़ा। कोलकाता ने अपने पहले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को हराया था।
नीतीश राणा (63), रोबिन उथप्पा (नाबाद 67) और आंद्रे रसेल (48) के जबरदस्त छक्कों से कोलकाता नाईट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को ईडन गार्डन मैदान में बुधवार को आईपीएल-12 के मुकाबले में आसानी से 28 रन से शिकस्त दे दी। रसेल को 17 गेंदों पर विस्फोटक पारी खेलने का पुरस्कार ‘मैन ऑफ द मैच’ के रूप में मिला।

पंजाब ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला सही नहीं रहा और कोलकाता ने पहले बल्लेबाजी करने का पूरा फायदा उठाया। कोलकाता की पारी में 17 छक्के और 14 चौके लगे। राणा ने 7 छक्के, रसेल ने 5 छक्के, सुनील नारायण ने 3 छक्के और उथप्पा ने 2 छक्के उड़ाए।
राणा ने मात्र 34 गेंदों पर 63 रन की पारी में दो चौके और सात छक्के लगाए जबकि उथप्पा ने 50 गेंदों पर नाबाद 67 रन में छह चौके और दो छक्के लगाए। रसेल ने मात्र 17 गेंदों पर 48 रन में तीन चौके और पांच छक्के लगाए। सुनील नारायण ने नौ गेंदों पर 24 रन में एक चौका और तीन छक्के उड़ाए। क्रिस लिन ने 10 गेंदों पर 10 रन में दो चौके लगाए।

राणा और उथप्पा ने तीसरे विकेट के लिए 110 रन की साझेदारी। कोलकाता ने आखिरी चार ओवर में 65 रन बटोरकर पंजाब के आक्रमण का धुंआ निकाल दिया। पिछले मैच में मैच विजयी पारी खेलने वाले रसेल ने अपना जलवा बरकरार रखते हुए 19वें ओवर में मोहम्मद शमी की गेंदों पर लगातार तीन छक्के और एक चौका उड़ाते हुए 25 रन बटोरे। रसेल ने 18वें ओवर में एंड्र्यू टाई की गेंदों पर दो चौके और दो छक्के उड़ाकर 22 रन बटोरे।

सबसे मजेदार बात रह रही कि रसेल को 3 रन के निजी स्कोर पर जीवनदान मिला था, जिसका उन्होंने भरपूर फायदा उठाया। हुआ यह कि शमी ने उन्हें बोल्ड कर दिया लेकिन अंपायर ने नोबॉल करार दी। रसेल का कीमती विकेट न मिल पाने के कारण कप्तान अश्विन भी शमी पर खूब झल्लाए।
सुनील नारायण को कोलकाता ने इस बार ओपनिंग में उतारा और उन्होंने दूसरे ओवर में वरुण चक्रवर्ती की गेंदों पर तीन छक्कों और एक चौके के साथ 25 रन जुटाए।

राणा ने पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन और मनदीप सिंह के ओवरों में दो-दो छक्के मारे तथा फिर हार्डस विलजोएन पर दो चौके और एक छक्का लगाया। राणा का यह लगातार दूसरा अर्धशतक रहा। पंजाब के कप्तान अश्विन के चार ओवर में 47 रन पड़े जबकि शमी, विलजोएन, टाई और चक्रवर्ती को एक-एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब को सबसे ज्यादा उम्मीदें क्रिस गेल से थीं लेकिन वह 13 गेंदों में दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 20 रन बनाकर आउट हो गए। गेल का विकेट रसेल ने लिया। इससे पहले लोकेश राहुल मात्र एक रन बनाकर लोकी फर्ग्युसन का शिकार बन गए। सरफराज खान 13 गेंदों पर 13 रन बनाकर आउट हुए। सरफराज का विकेट भी रसेल ने लिया।
मयंक अग्रवाल ने 34 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 58 रन बनाए लेकिन लक्ष्य बहुत बड़ा होने के दबाव में वह अपना विकेट गंवा बैठे। मयंक को लेग स्पिनर पीयूष चावला ने बोल्ड किया। मयंक का विकेट 134 के स्कोर पर गिरा। मयंक ने डेविड मिलर के साथ चौथे विकेट के लिए 74 रन की साझेदारी की। मयंक ने तीन साल बाद जाकर आईपीएल में अर्धशतक बनाया। मयंक का आईपीएल में यह चौथा अर्धशतक था।

मिलर भी बड़े शॉट खेल रहे थे लेकिन रन रेट लगातार बढ़ता जा रहा था। मनदीप सिंह ने भी आने के बाद दो चौके और एक छक्का लगाया लेकिन पंजाब को बड़े छक्कों की जरूरत थी जिस तरह कोलकाता ने मारे थे।

लेकिन हर गेंद के साथ मजिल पंजाब से बहुत दूर होती जा रही थी। मिलर ने 19वें ओवर में दो रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन कोई जश्न नहीं मनाया। मनदीप ने चावला के पारी के अंतिम ओवर में दो चौके लगाए और हार का अंतर कम किया। मिलर ने 40 गेंदों पर नाबाद 59 रन में पांच चौके और तीन छक्के लगाए जबकि मनदीप ने 15 गेंदों पर नाबाद 33 रन में 4 चौके और 1 छक्का लगाया। कोलकाता की तरफ से रसेल ने 21 रन पर 2 विकेट लिए।