कूड़े का डंप हटवाने को लेकर वार्ड नंबर 69 के निवासियों ने दिया धरना

489

जालंधर, रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा). वार्ड नंबर 69 कबीर नगर के वासियों ने वीरवार को वार्ड के साथ लगते कूड़े का डंप हटवाने को लेकर मार्किट कमेटी के सदस्यो के डंप के साथ धरना दिया। इस धरने में मौजूद पार्षद सरफो देवी वे उनके पति कामरेड राजकुमार भी शामिल हुए। धरने सुबह आठ बजे शुरू किया गया धरने दे रहे गौरव टेलीकॉम के मालिक गौरव मागो ने बताया की कई बार प्रशासन को कहने के बावजूद भी कूड़े के डंप को यहाँ से नही उठाया गया ओर ना ही कभी सही ढंग से कूड़े को रखने का प्रयास किया गया गौरव ने बताया की इस डंप मे साथ लगते वार्डो का सारा कूड़ा लाकर यहाँ फेका जाता है ओर कभी कभी तो रात को बाहर के इलाकों का कूड़ा भी चोरी छिपे यहाँ लाकर फेक दिया जाता है ओर सुबह तक यहाँ गंदगी का अम्बार लग जाता है ओर इस कूड़े के डंप पर पर तरह तरह के जानवर ओर पंछी आकर बैठते है ओर सारा कूड़ा सडक पर बिखेर देते है जिस से आने जाने वाले लोगों को भयंकर बदबू का सामना करना पड़ता है इसलिए लिये इस समस्या का हल ना होता देख आज सभी ने धरना लगाने का फैसला किया धरने के दौरान दूसरे वार्ड का कूड़े फेकने आयी कई गाड़ियों को धरना दे रहे लोगों ने घेर लिया ओर कूड़े से भारी गाड़ियों को वापिस ले जाने के लिये कहने लगे जब लोगों ने कूड़ा फेकने आयी एक गाड़ी के ड्राइवर प्रिंस से पूछा गया की यह गाड़ी मे कूड़ा किस वार्ड का है तो ड्राइवर ने कहा की छावनी से कूड़ा लाकर मे रोज़ यहाँ फेंक कर जाता हू मुझे यहाँ कूड़ा फेकने को बोला जाता है यह बात सुनते ही धरना लगा रहे लोगों ने नगर निगम के कमिश्नर ओर मेयर के खिलाफ नारे बाज़ी शुरू कर दी धरने मे मौजूद पार्षद पति ने उन्हें चुप करवाया ओर कहा की डंप के साथ कई मशहूर कॉलेज ओर यूनिवर्सिटी है जिस सें पढ़ने आने वालो को भी कूड़े सें आने वाली बदबू का सामना करना पड़ता है ओर साथ ही. मंदिर होने के कारण मंदिर आने वालो को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है ओर यहाँ रहने वालो लोगों को कूड़े की गंदगी से होने वाली बीमारी का डर भी लगा रहता है इस पर पार्षद सरफो देवी ने कहा की हमारी नगर निगम कमिशनर ओर मेयर सें यह मांग है की इस कूड़े के डंप को पक्के तौर पर हटाया जाये ओर कही ओर शिफ्ट किया जाये ओर यहाँ ग्रीन बेल्ट विकसित की जाये या फिर डंप की चारदीवारी की जाये ताकि कूड़ा बाहर ना आ सके धरने दे रहे लोगों ने बताया की अगर उनकी इस समस्या का हल जल्दी नही हुआ तो फिर वह नगर निगम ओर मेयर हाउस का घेराव करने को मजबूर होंगे