मिशन शक्तिः संबोधन से बढ़ सकती है मोदी की मुश्किल, नहीं ली थी इलेक्शन कमीशन की परमिशन

942

नई दिल्ली. ‘मिशन शक्ति’ की उपलब्धि के बारे में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन से चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत पर चुनाव आयोग ने दूरदर्शन और आकाशवाणी से प्रसारण की फीड का स्रोत एवं अन्य जानकारियां मांगी हैं। आयोग ने साफ कहा कि पीएम मोदी ने प्रसारण के पूर्व न तो चुनाव आयोग को सूचित किया था और ना ही अनुमति मांगी थी।

उप चुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने लोकसभा चुनाव की तैयारियों के बारे में बताया कि पीएम के संबोधन से आचार संहिता का उल्लंघन हुआ या नहीं, इसकी जांच के लिए आयोग द्वारा गठित समिति सभी पहलुओं की विस्तृत जांच कर रही है। सक्सेना ने कहा, ‘नहीं, इस बारे में न तो सूचित किया गया, ना ही अनुमति मांगी गई थी।’

उल्लेखनीय है कि उपग्रह रोधी मिसाइल के सफल प्रयोग से जुड़े ‘मिशन शक्ति’ की कामयाबी से देश को अवगत कराने के लिए मोदी के संबोधन को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए माकपा नेता सीताराम येचुरी ने इसकी आयोग से शिकायत की थी।