उग्र हुआ गुर्जर आंदोलन, धारा 144 लागू, इंटरनेट बंद, दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पूरी तरह ठप्प

927

नई दिल्ली. राजस्थान में 5 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समाज का आंदोलन उग्र हो गया है। गुर्जरों ने रेलवे पटरियों के साथ हाईवे पर धरना भी लगा दिया है। 

सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर से शुक्रवार को शुरू हुआ गुर्जर आंदोलन पांच जिलों तक फैल गया है। रेल पटरी के साथ गुर्जरों ने हाईवे पर जाम लगाना शुरू कर दिया है। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पूरी तरह से ठप्प है। करीब दो दर्जन ट्रेनें रद्द करनी पड़ी हैं और सैकड़ों रोडवेज बसों के पहिए थमे हुए हैं। प्रशासन ने एहतियातन बरततें हुए कई इलाकों में गुर्जर पड़ाव के आसपास के क्षेत्र में मोबाइल इंटरनेट बंद कर दिया है। हिंसक हुए आंदोलन के बाद दौसा, भरतपुर, धौलपुर, सवाई माधोपुर और करौली में धारा 144 लगा दी गई है।

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते सवाई माधोपुर में पटरी पर पड़ाव के आसपास प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट बंद कर दिया है। पूरे इलाके में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। रोडवेज ने अधिकांश रूटों पर बसों का संचालन बंद कर दिया है। हिण्डौन रोडवेज की 94 में से 87 बसों को बंद कर दिया गया है। हिण्डौन रोडवेज आगार को 7 लाख का रोज नुकसान होना बताया जा रहा है।