6 से 8 लेन बनेगा जीटी रोड, पानीपत से जालंधर तक का सर्वे शुरू

717

जालंधर/अंबाला. जीटी रोड को सिक्स लेन से आठ लेन बनाने को लेकर नेशनल हाइवे अथॉरिटी ने दिल्ली व मुंबई की टीम से सर्वे शुरू करवा दिया है। इस सर्वे की शुरुआत 26 जनवरी को पानीपत से शुरू हुई थी। इसमें नेशनल हाइवे अथॉरिटी एक निजी कंपनी से पानीपत से जालंधर तक सर्वे करवा रही है। इसमें कंपनी की टीम हाइवे से निकलने वाले वाहनों की संख्या का डाटा तैयार कर रही है।

चुनाव से पहले सरकार कई बड़े प्रोजेक्टों पर काम कर रही है। इसी कड़ी में एनएच-1 को 8 लेन व जगाधरी मार्ग को फोर लेन बनाने को लेकर काम किया जा रहा है। बुधवार को कैपिटल चौक पर रोडजी सर्वे एंड डाटा सर्विसेज लिमिटेड की 16 सदस्यीय टीम ने मार्ग से निकलने वाले वाहनों का डाटा तैयार किया। यह टीम गुरुवार सुबह तक काम करेगी। जगाधरी मार्ग को फोर लेन बनाने के प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार की ओर से स्वीकृति मिल गई है। 

वहीं, जीटी रोड को आठ लेन बनाने की योजना पर काम किया जा रहा है। सरकार ने यह फैसला जीटी रोड पर वाहनों के आवाजाही की बढ़ती संख्या को देखते हुए कर सकती है। इससे नेशनल हाइवे पर आवाजाही करने वाले लोगों को काफी फायदा मिलेगा। साथ ही ट्रैफिक जाम की समस्या से भी निजात मिलेगी। वाहनों की संख्या का डाटा इक्ट्ठा करने का काम पानीपत से शुरू किया गया था। इसके बाद कंपनी की टीम ने करनाल, शंभू बैरियर, लाडोवाल, फगवाड़ा, पटियाला बाइपास और बुधवार को कैंट के कैपिटल चौक पर सर्वे किया है।