केपी को मनाने के लिए कैप्टन ने लगायी दो दिग्गजों की ड्यूटी…जाने कौन कौन मनाने आएगा केपी को, दोनों केपी के हैं निकटवर्ती

2089


जालंधर। जालंधर लोकसभा सीट पर चौधरी की बगावत के लिए उतारू पूर्व सांसद मोहिंदर सिंह केपी को मनाने का काम जोर शोर से शुरू हो चुका है। केपी को मनाने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने दो सा​थियों को जिम्मेदारी सौंपी है, जो शनिवार शाम को जालंधर पहुंच सकते हैं। यह दोनों हैं, पंजाब के जेल मंत्री सुक्खी रंधावा व पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी। चन्नी तो केपी के निकटवर्ती रिश्तेदार हैं। चन्नी का भाई केपी का समधि है ऐसे में कैप्टन व कांग्रेस हाईकमान के पास चन्नी से बेहतर विकल्प कोई नहीं है। दूसरा सुक्खी रंधावा है। सुक्खी के पिता सुखजिंदर रंधावा केपी के निकटवर्ती रहे हैं, ऐसे में उनके परिवारिक रिलेशन काफी हैं। राहुल गांधी को यह लगता है कि रंधावा व चन्नी दोनों ही केपी को मना लेंगे। दूसरी बात यह भी है कि केपी को कांग्रेस हाईकमान संगठन में एडजस्ट कर सकती है, इसके उपर मंथन किया जा रहा है। केपी हालांकि अभी अपना प्रेशर बनाकर रखे हुए हैं और शुक्रवार को चौधरी संतोख सिंह अपनी पत्नी कर्मजीत कौर के साथ केपी को मनाने के लिए गए लेकिन अभी बात सिरे नहीं चढ़ी है। कांग्रेस हाईकमान ने केपी का रूख देखते हुए दोनों दिग्गजों को मैदान में उतारा है।