राणा गुरजीत जी स्टाप पॉलिटिकल गुंडागर्दी…राणा के खिलाफ सड़क पर उतरे शहर के होटल मालिक….करोड़ों रुपये की जमीन को लेकर राणा गुरजीत विवादों में

1472

जालंधर रोज़ाना भास्कर.(हरीश शर्मा)कपूरथला से विधायक राणा गुरजीत सिंह व उनका समधि कनाडा निवासी अमृतपाल लोगों के साथ धक्केशाही कर जमीन हथियाने की कोशिश कर रहे हैँ। होटल रमाडा के मालिक राजन चोपड़ा, जलोटो वॉल्स की मालिक के अलावा शहर की बड़ी हस्तियां वीरवार को बैनर लेकर सड़कों पर उतर गए हैं​ कि राणा गुरजीत जी स्टाप पॉलिटिकल गुंडागर्दी..राजन चोपड़ा व निति सोनी ने बताया कि .2007 में राणा के समधि अमृतपाल व उसके साले परमप्रीत सिंह ने गांव कादियांवाली व धनाल में 41 एकड़ जमीन का जमींदार के साथ सौदा कर ब्याना किया था। जिसमें 66 फीट रोड पर जमीन का 200 फीट फ्रंट भी था। दोनों जीजा साला ने जमीन का सौदा आगे स्टरलिंग टाऊन विला के साथ कर लिया और 10 बड़े शहर के नामवर लोगों को जमीन खुद रजिस्ट्रियां करवाकर दे दिया, जिसमें कुछ फार्म हाऊस का बकायदा नक्शा पास हुआ, जिसमें 66 फीट रोड से रास्ता दिखाया गया और वहां से 60 फीट की रोड बनाकर आगे फार्म हाऊस को दी गयी थी। इस बीच जीजा साला ने मिलीभगत फ्रंट के प्लाट जिसका फ्रंट 200 फीट था, उसकी रजिस्टरी अपनी बहन यानी अमृतपाल की पत्नी जगदीप कौर के नाम पर 2011 में करवा दी। इसी प्लाट से 60 फीट का रास्ता बना हुआ था, जो आगे फार्म हाऊसों को जाता था। अब जीजा साला व राणा गुरजीत सिंह की नीयत बेईमान हो गयी है और इसी कारण उनहोंने फ्रंट की सड़क वाले प्लाट पर कब्जा करने की कोशिश की है, जहां पर आम लोगों के लिए 60 फीट का रास्ता बना हुआ था। लोगों की सड़क को तोड़ दिया गया। इस बारे में मंगलवार को कमिशनर गुरप्रीत भुल्लर को शिकायत की गयी थी, जिसकी जांच एसीपी रविंदर सिंह को भेजी गई थी। पब्लिक ने सीपी से कहा था कि कृप्या सड़क न तोड़ने दी जाए लेकिन बुधवार को भी राणा गुरजीत की शह पर सड़क तोड़ने का काम जारी रहा। फार्म हाऊसों के मालिक वहां पर पहुंचे तो देखा कि राणा गुरजीत सिंह की कार पीबी..09जी..0002 में राणा के दो खास लोगों के साथ अमृतपाल वहां पर जबरन सड़क तुड़वा रहा था। लोगों ने विरोध किया तो अमृतसपाल ने मौके पर आई महिलाओं निती सोनी अदिति हंस के साथ गंदी गाली गलौच किया और अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए कहा कि मेरा समधि राणा गुरजीत है, जो सबको ठोक के रख देगा। इसकी शिकायत पुलिस से की गयी है लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की है। मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह जोकि न्यायपंसद व जनता के सर्वप्रिय हैं, उनको शिकायत की जाएगी और कहा जाएगा कि राणा गुरजीत का इस्तीफा लिया जाए जो धक्केशाही कर रहा है। इस मामले में शीघ्र ही एआईसीसी के प्रधान राहुल गांधी व महासचिव प्रियंका को भी शिकायत की जाएगी।