ब्रेकिंगः सेठ हुकमचंद स्कूल के अंदर से किडनैप हुआ 8वीं क्लास का अनमोल, लुधियाना बाईपास से मिला अनमोल के पिता बोले- बेटे को कुछ सूंघाकर किडनैप करने की कोशिश की गई, बेटे ने समझदारी दिखाई और लुधियाना बाईपास उतर गया पुलिस ने मौके पर पहुंच चैकिंग की तो खराब मिले स्कूल के कैमरे

4621

ब्रेकिंगः सेठ हुकमचंद स्कूल के अंदर से किडनैप हुआ 8वीं क्लास का अनमोल, लुधियाना बाईपास से मिला
अनमोल के पिता बोले- बेटे को कुछ सूंघाकर किडनैप करने की कोशिश की गई, बेटे ने समझदारी दिखाई और लुधियाना बाईपास उतर गया
पुलिस ने मौके पर पहुंच चैकिंग की तो खराब मिले स्कूल के कैमरे


जालंधर (हरीश शर्मा). सोमवार दोपहर 2 बजे के करीब सेठ हुकमचंद स्कूल से 8वीं क्लास का एक स्टूडेंट अचानक लापता हो गया, जो कि शाम 4 बजे लुधियाना बाइपास से मिला। 13 साल के अनमोल ने ने अपने पिता मुकेश खन्ना को किसी के फोन से सूचना दी कि मैं लुधियाना बाई पास पर हूं
अनमोल के पिता ने बताया कि मेरा बेटा अनमोल लुधियाना बाईपास है। बेटे ने बताया कि किसी ने स्कूल के अंदर ही रूमाल से उसे कुछ सूंघा दिया, जिस कारण वह बेहोश हो गया। जब आंख खुली तो अनमोल ने खुद को बस में पाया। वो कुछ बेसुध होने की एक्टिंग करता रहा और जैसे बस रुकी अनमोल भाग कर बस से नीचे उतर गया और किसी से पहले उसे पूछा कि ये कौन सी जगह है और फिर किसी से फोन मांग कर मुझ से संपर्क किया। हमेन लुधियाना में रहते उसके कजिन को सूचना दे दी है और अब अनमोल उसके पास पहुंच चुका है। वे जालंधर के लिए रवाना हो चुके हैं। बाकी जानकारी उनके जालंधर पहुंचने पर ही पता लग सकेगी।


इस संबंध में थाना 2 के एसएचओ राजेश कुमार ने बताया कि डेढ़ बजे छुट्टी के दौरान स्कूल के अंदर से ही अनमोल लापता हुआ था। हमने स्कूल के सीसीटीवी चेक करने चाहे तो वो खराब पाए गए हैं। वो लुधियाना में किस तरह पहुंचा ये बात अनमोल के जालंधर पहुंचने पर ही साफ हो पाएगी।

स्कूल वालों ने क्या कहा

स्कूल में पूरे प्रबंध, स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे बंद नहीं थे कैमरों की रिकॉर्डिंग स्कूल मैनेजमेंट के आने पर ही दिखाई जा सकती थी अनमोल के परिवार वालों ने शोर मचा दिया कि कैमरे बंद पड़े है कैमरो की रिकॉर्डिंग थाना नंबर दो की पुलिस को दिखा दी गई है

बच्चे को अगवा करने का सवाल ही नहीं : प्रवीण दादा
इस संबंध में सेठ हुकम चंद स्कूल के ट्रस्टी प्रवीन दादा ने बताया कि बच्चे को स्कूल से अगवा किया ही नहीं जा सकता। स्कूल में प्रबंध पूरे हैं। बच्चा दो पेपरों में फेल हो गया था। इसी कारण वह खुद स्कूल से गया है। 14-15 साल के बच्चे को स्कूल से उठाया नहीं जा सकता। वह अपने दोस्त के साथ ही कहीं चला गया था।