आखिर रोजाना भास्कर की खबर पर लग गई मुहर- सांपला के पास सोचने के अलावा कोई विकल्प नहीं

663

27 मार्च की खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें…

https://www.rozanabhaskar.com/rb-43/

होम टाउन की तरफ होगी वापसी, जालंधर में दलित नेताओं के साथ भी होंगे दो-दो हाथ

जालंधर (हरीश शर्मा). लोकसभा चुनाव में जालंधर की दलित राजनीति के दिग्गज माने जाते विजय सांपला की बड़ी हार सामने आई है। हालांकि पार्टी का यह फैसला अब आया है लेकिन ‘रोजाना भास्कर’ ने करीब एक महीना पहले 27 मार्च को ही आशंका जता दी थी कि सांपला को इस बार होशियारपुर से टिकट मिलना मुश्किल भरा रास्ता है। ‘रोजाना भास्कर’ ने विजय सांपला के टिकट कटने के 5 प्वाइंट बताए थे। इनमें 1. अमित शाह को आंख दिखाना, सोम प्रकाश की टिकट काटने की वकालत करना, 2. मिंटी कौर का प्रकरण, 3. इर्द-गिर्द विवादित युवाओं की टोली रखना, 4. होशियारपुर में कोठी का विवाद, 5. मिशन मोदी कैंपेन को पूरी हवा देना शामिल थे। अब पार्टी ने इन्हें लोकसभा की सीट देने से किनारे कर दिया है तो आने वाला समय विधानसभा चुनाव तक का है। अब अगर इन्हें वापस अपने होम टाउन में आकर दोबारा स्टैंड होना है तो यहां के पहले दलित दिग्गजों के साथ लोहा लेना पड़ सकता है।