निगम और मेयर को कमलजीत सिंह भाटिया और अकाली-भाजपा लीडरशिप ने लिया लंबे हाथ, वार्ड में विकास कार्य न होने पर किया निगम और कैप्टन सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

1316
धरने को संबोधित करते हुए एसजीपीसी मेंबर कुलवंत सिंह मन्नन, साथ हैं पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर कमलजीत सिंह भाटिया व अन्य। (नीचे) धरने में संबोधित करते मोहिंदर भगत, साथ हैं कुलवंत सिंह मन्नन, कमलजीत सिंह भाटिया, बलजीत सिंह नीलामहल, गुरदेव सिंह गोल्डी भाटिया व अन्य।

सुधार न होने पर 2 सितंबर को ‘नगर निगम लाहनत रैली’ निकालने की धमकी

जालंधर, रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा). इलाके में विकास कार्यों के चलते पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर कमलजीत सिंह भाटिया को कौन नहीं जानता? पिछले करीब 25 साल से सिर्फ यही शख्स पूरे वार्ड में विकास कार्य करवा रहा है। चाहे सरकार अपनी यानी अकाली-भाजपा की हो या कांग्रेस की, भाटिया जनता के काम करवाने में सबसे आगे रहे हैं। लेकिन इस बार कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद कमलजीत सिंह भाटिया और उनकी पत्नी काउंसलर जसपाल कौर भाटिया को इलाके में काम न होने के चलते सड़क पर धरना लगा पड़ गया है। भाटिया ने इसकी चेतावनी पहले ही दे दी थी कि उनके वार्ड में विकास कार्य नहीं हो रहे, जिस कारण उन्हें लोगों के हितों की रक्षा के चलते सड़क पर उतरना पड़ेगा। उनकी इस चेतावनी पर मेयर और निगम प्रशासन ने गौर नहीं किया और कमलजीत सिंह भाटिया के पक्ष में सीनियर अकाली-भाजपा लीडरशिप ने निगम को लंबे हाथ ले लिया।
सोमवार सुबह 10 बजे वीर बबरीक चौक में निगम के जोनल दफ्तर में पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर कमलजीत सिंह भाटिया की अगुवाई में धरना लगाया गया। भाटिया ने बताया कि उनके सीनियर डिप्टी मेयर और काउंसलर रहते इलाके में करोड़ों के विकास कार्य हुए, पार्कों, ग्रीन बेल्टों का निर्माण, 120 फुटी रोड का निर्माण, फैंसी एलईडी लाइटें व सफाई प्रबंधों के अलावा रोड स्वीपिंग प्रोजेक्ट व ब्यूटीफिकेशन के काम हुए। अब यह सारे काम रुके हुए हैं। कांग्रेस के शासन में इलाके का ही नहीं, शहर का बुरा हाल हो चुका है। चार बार मेयर जगदीश राज राजा और निगम कमिश्नर दीपर्व लाकड़ा के पास डेपूटेशन जाने और इलाके का दौरा करने का भरोसा देने के बावजूद न तो दौरा किया गया और न ही इलाके के हालात में कोई सुधार किया गया। उन्होंने कहा कि इलाके की सड़कों और सफाई का भी बुरा हाल है। उन्होंने शहर की समाज सेवी संगठनों से 2 सितंबर की ‘नगर निगम लाहनत रैली’ में शामिल होने की अपील की। इस मौके गुरदेव सिंह गोल्डी भाटिया ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने सिर्फ अब तक लारे लगाकर जनता को गुमराह किया है। लोगों के साथ विश्वासघात किया है।
इस मौके भाजपा लीडर मोहिंदर भगत, एसजीपीसी मेंबर और अकाली शहरी प्रधान कुलवंत सिंह मन्नण, बलजीत सिंह नीलामहल, गुरदेव सिंह गोल्डी भाटिया, शमा सहगल, रजनी खन्ना, मधु शर्मा, रेखा शर्मा, बलबीर कौर, अमरजीत कौर , कंवलजीत कौर, राज उपल सुमन राज उप्पल, सुमन, रुपिंदर कौर, कमल, डेज़ी अरोड़ा, दर्शन हांडा, सुषमा मेहता, जसविंदर बंसल, विनोद रानी, रणजीत कौर, सुनीता चुघ, सुनैना सुरिंदर कौर व अन्य मौजूद रहीं।