Breaking… बाबा सोढल मेले में जेबें काटकर आए लुटेरों ने 70 साल की बुजुर्ग महिला के कड़े ठगे, भागने लगे तो बाइक फिसली, लोगों ने लगाया फैंटा

975

लोगों ने निकाला गुस्सा। लात-घूंसों से की पिटाई।

जालंधर, रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा). वीरवार दोपहर किशनपुरा श्मशानघाट के बाहर दो लुटेरों ने 70 साल की बुजुर्ग महिला को ठगने की कोशिश की। महिला के सोने के कड़े लेकर फरार होने की कोशिश में लुटेरों की बाइक फिसल गई और दोनों गिर गए। बुजुर्ग महिला मीना ने शोर मचाया तो लोगों ने दोनों को पकड़ लिया। खूब फैंटा लगाने के बाद दोनों को थाना डिवीजन 3 की पुलिस के हवाले कर दिया गया।


हत्थे चढ़े लुटेरे की टांगें तोड़ना चाहते थे लोग पर बाकी लोगों ने बचा लिया।

पकड़े गए लुटेरों ने बताया कि दोनों बाबा सोढल मेले से आए हैं। वहां उन्होंने दो लोगों की पाकेट मारी। लोगों ने जब पर्स चेक किए तो एक पर्स में बटाला के रहने वाले व्यक्ति का आधार कार्ड मिला जबकि दूसरा पर्स तरनतारन के रहने वाले किसी व्यक्ति का था। एक पर्स में से 450 रुपए और दूसरे में से 800 रुपए निकले।


पुलिस को शिकायत का रहेगा इंतजार। हर बार लुटेरे इसी कारण छूट जाते हैं क्योंकि कोई शिकायत देने ही नहीं आता।

मट्टू स्टूडियो वाले की भाभी महिला मीना पत्नी स्वर्गीय मोती लाल निवासी कीर्ति नगर ने बताया कि वे श्मशानघाट में किसी के संस्कार पर आर्ई हुई थीं। जब बाहर निकलीं तो बाइक पर आए दोनों लुटेरों ने उन्हें रोक लिया। एक बोला, माता जी आप परेशान दिख रही हैं। बुजुर्ग महिला ने इंकार किया तो बोला, यह मेरा दोस्त तांत्रिक है। यह आपकी सारी परेशानियों का हल कर देगा। बहलाकर वे महिला को साथ वाली गली में ले गए। वहां उन्होंने सोने के कड़े डबल करने का झांसा देकर दोनों कड़े उतरवा लिए। मंत्र आदि का ढोंग करके उन्होंने कड़े एक कागज में लपेटकर बुजुर्ग मीना को दे दिए। मीना कागज खोलने लगीं तो उन्होंने मना कर दिया कि घर जाकर ही कागज खोलना। मीना ने कागज खोलना चाहा तो दोनों फरार हो गए। गली से तेज रफ्तार निकलने पर सामने बाइक आ गई तो लुटेरे ने अपनी बाइक की हैंड ब्रेक लगा दी। इस दौरान दोनों गिर गए और महिला के शोर मचाने पर लोगों के हत्थे चढ़ गए। सूचना मिलने पर थाना डिवीजन 3 की पुलिस ने दोनों को काबू कर लिया।