हंसराज हंस को भी मिला टिकट… सूफी गायक को भगवा पार्टी ने उतारा मैदान में… अकाली दल ​की टिकट पर जालंधर से हार चुके हैं हंस… जानिए कहां से होंगे हंस प्रत्याशी

681

जालंधर। उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट पर वर्तमान सांसद उदित राज को बड़ा झटका लगा है। नामांकन के अंतिम दिन भारतीय जनता पार्टी ने उनका टिकट काटकर मशहूर सूफी गायक हंसराज हंस को उम्मीदार घोषित किया है। इससे पहले रविवार और सोमवार को भाजपा ने दिल्ली की कुल सात में से छह सीटों पर अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर किया था। सोमवार को देर रात नई दिल्ली सीट से मीनाक्षी लेखी और पूर्वी दिल्ली सीट पर क्रिकेटर गौतम गंभीर के नाम की घोषणा हुई थी, लेकिन वर्तमान सांसद उदित राज की सीट उत्तर-पश्चिम दिल्ली को लेकर असमंजस था, मंगलवार को हंसराज हंस के बतौर उम्मीदवार बनने के साथ दूर हो गया।
वहीं, खबर आ रही है कि टिकट नहीं मिलने पर उत्तर पश्चिमी दिल्ली के सांसद डॉ. उदित राज भाजपा से बगावत कर सकते हैं। उन्होंने सुबह ही मीडिया से कहा था कि पार्टी द्वारा टिकट की घोषणा इंतजार का कर रहे हैं, पार्टी के निर्णय के बाद अगला कदम उठाएंगे। बताया जा रहा है कि उनके बागी तेवर की वजह से इस सीट पर टिकट की घोषणा में देरी हो रही था। पार्टी उनकी जगह हंस राज हंस को चुनाव लड़ाने का फैसला कुछ दिन पहले ही कर चुकी थी।
बेहद गरीब दलित परिवार में जन्में सिंगर हंसराज हंस सालों के संघर्ष के बाद गायकी की दुनिया में अपना नाम कमाया है। पद्मश्री राजगायक हंसराज हंस ने वर्ष 2016 में भाजपा ज्वाइन की थी।
सूफी गायकी की दुनिया में अलग छाप छोड़ने वाले हंस राज हंस ने अपने राजनीतिक वर्ष 2009 में शिरोमणि अकाली दल से शुरू की थी, इतना ही नहीं वह पंजाब की जालंधर सीट से चुनाव भी लड़े थे, लेकिन हार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद उऩ्होंने 2014 को अकाली दल का दामन छोड़कर फरवरी 2016 में कांग्रेस ज्वाइन कर लिया था। इसके बाद 10 दिसंबर 2016 को उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।
परिसीमन के बाद दिल्ली की उत्तर पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट पर वर्ष 2009 में इस सीट पर पहली बार चुनाव हुआ था और कांग्रेस की कृष्णा तीरथ ने यहां जीत हासिल की थी। इसके बाद वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा के उदित राज ने जीत दर्ज की थी। उन्हें 6,29,860 वोट मिले थे, जबकि करीबी आम आदमी पार्टी की राखी बिड़लान 5,23,058 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर रही थीं।
इस निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत विधानसभा की 10 सीटें आती हैं, जिनमें नरेला, मुंडका, नांगलोई जाट, बादली, किरारी, मंगोल पुरी, रिठाला, सुल्तान पुर माजरा, रोहिणी व बवाना शामिल हैं।