जालंधर में बनेगा नया फोकल प्वाइंट, 100 करोड़ का वैट रिफंड होगा, पढ़ें उद्योगमंत्री का बड़ा ऐलान*उद्योग मंत्री ने सीईटीपी के लिए 30 करोड़ जारी करने का ऐलान किया

753

जालंधर रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा) चमड़ा उद्योग को प्रदूषण मुक्त करने को विश्वसनीय बनाने के लिए उद्योग और व्यापार मंत्री सुन्दर शाम अरोड़ा ने आज लैदर कंपलैक्स में कामन इफलूऐंट ट्रीटमेंट प्लांट (सी.ई.टी.पी.) के आधुनिकरण के लिए 30 करोड़ रुपए जारी करने का ऐलान किया गया।
सुन्दर शाम अरोड़ा के साथ विधायक सुशील कुमार रिंकू और चौधरी सुरिन्दर सिंह, डिप्टी कमिशनर कुलवंत सिंह भी मौजूद थे। अरोड़ा ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने उद्योगपतियों की काफ़ी लंबे समय से चली आ रही माँग को पूरा करने के लिए यह ऐतिहासिक फ़ैसला लिया है। उन्होनें कहा कि इससे जहाँ उद्योगों की सामर्थ्य में विस्तार होगा वहीं वातावरण को भी प्रदूषित होने से बचाया जा सकेगा।
उन्होने कहा कि इस से काफ़ी लंबे समय से उद्योगों की तरफ से की जा रही माँग को पूरा करने के साथ-साथ इसकी सामर्थ्य को 5 एम.एल.डी. से बढ़ा कर 11 एम.एल.डी. हो जायेगी। उन्होंने कहा कि इससे ही राज्य सरकार की तरफ से लैदर कंपलैक्स में एक ओर सी.ई.टी.पी.बनाने की परवानगी दी गई है। उन्होने कहा कि यह सी.ई.टी.पी.सथापित करने के लिए सभी शर्तों को पूरा किया जा चुका है और इस पर जल्द काम शुरू हो जायेगा।
उद्योगों में 50,000 करोड़ का निवेश किया जा सका
अरोड़ा ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने राज्य के औद्योगिक विकास को ओर बढ़ावा दिया है। उन्होंने कहा कि उद्योगों में ओर तेजी देने के साथ ही राज्य में लाखों रोजग़ार पैदा हुए हैं जिस से बेरोजग़ार नौजवानों को रोजग़ार मिला है। उन्होंने कहा कि जब से राज्य में कैप्टन अमरिन्दर सिंह का नेतृत्व वाली सरकार ने कार्य भार संभाला है तब से उद्योगों की हर समस्याओं का हल किया गया है।
सुन्दर शाम अरोड़ा ने कहा कि पंजाब सरकार ने राज्य में उद्योगों के लिए शाजगार माहौल पैदा करने से ही उद्योगपतियों की तरफ से उद्योगों में 50,000 करोड़ का निवेश किया जा सका है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से साल 2017 में बनाई गई औद्योगिक नीति राज्य के सीमा और क्षेत्र के उद्योगों को नयी दिशा प्रदान करने में महत्वपूर्ण सिद्ध हुए है।
फोकल प्वाइंट की कायाकल्प करेगी सरकार
सुन्दर शाम अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने घोषणा करने के बाद राज्य के 12 औद्योगिक फोकल प्वाइंट की काया-कल्प करने के लिए काम शुरू कर दिया जायेगा। जालंधर में नया फोकल प्वाइंट बनाने की राज्य सरकार की योजना का खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि यह फोकल प्वाइंट स्थापित करने के लिए योग्य जगह की पहचान का काम चल रहा है।
उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से उद्योगों को निक्षणों से निजात दिलाने का फ़ैसला लिया गया है और अब काम, प्रदूषण और उद्योग विभाग की तरफ से संयुक्त तौर पर उद्योगों की जांच की जाएगी। इस अवसर पर सुन्दर शाम अरोड़ा ने इस महीने के आखिर तक उद्योगों को 100 करोड़ रुपए के वैट रिफंड करने का ऐलान भी किया गया। उन्होंने बताया कि इसी तरह आने वाले दो महीनों के दौरान 200 करोड़ का वैट रिफंड कर दिया जायेगा।