बारिश से गिरी सोढल मंदिर की दीवार, शुक्र है मेले से पहले ही पता लग गई कमजोरी

756

एक-डेढ घंटे की बारिश से खुली नगर निगम के प्रबंधों की पोल

जालंधर रोजाना भास्कर (हरीश शर्मा). शुक्रवार सुबह 8ः30 बजे शुरू हुई बारिश का असर पूरे शहर के अलावा बाबा सोढल मंदिर परिसर में भी देखने को मिला। बारिश के बाद करीब 9ः30 बजे एकदम से मंदिर की बाउंडरी वाली दीवार गिर गई। यह शुक्र है कि मेले से पहले ही इस कमजोरी का पता लग गया। मंदिर प्रबंधक कमेटी का कहना है कि बाबा सोढल की कृपा है कि समय रहते इस बात का पता लग गया। अब जल्द ही सभी दीवारों को चेक करवाकर उन्हें पक्का करवाया जाएगा ताकि मेले के दौरान किसी भी अप्रिय घटना की कोई गुंजाइश न रहे।


उधर, शहर के सभी इलाकों में पानी जमा हो गया। कई घरों के अंदर पानी घुस जाने से सामान खराब हो गया। लोगों का गुस्सा है कि नगर निगम टैक्स थोपने में सबसे आगे है

लेकिन जन सुविधाएं देने में जीरो है। निगम कमिश्नर और मेयर खानापूर्ति के लिए सड़कों पर दौरे कर रहे हैं जबकि असलियत यह है कि महज एक डेढ घंटे की बारिश ही सारी पोलें खोल देती है।